Home Top Ad

खोजा (हिज़ड़ा) के तीन सवाल-AKBAR BIRBAL STORIES IN HINDI

Share:

खोजा (हिज़ड़ा) के तीन सवाल-AKBAR BIRBAL STORIES IN HINDI



बादशाह अकबर के राज महल में एक मुंहलगा बुद्धिमान खोजा हिजड़ा था|  उसका काम जनान खाने की देख-रेख करना था |  बेगम के साथ यह पर्दे की ओट से बीरबल की बुद्धिमता की बातें सुनता था| और मन ही मन जलता था| बादशाह का मुंहलगा होने के कारण एक दिन उसने बादशाह से कहा कि वह बीरबल से तीन सवालों का उत्तर जानना चाहता है | यदि बीरबल उनके उत्तर दे सके तो उनकी बुद्धिमता स्वीकार कर लेगा|


 बादशाह ने उसे इजाजत दे दी|

  खोजा ने दरबार में उपस्थित होकर, सबके सामने बीरबल से तीन सवाल किए --

1) जमीन का बीच कहां है?
2) आकाश में कितने तारे हैं?
3)जमीन पर कितने मर्द हैं?

 उसके प्रश्न सुनकर बीरबल मन-ही-मन मुस्कुराए| सोचा जैसे प्रश्न किए गए हैं | वैसे ही उत्तर देने चाहिए वे उत्तर देने के लिए खड़े हुए और कहना शुरू किया-

खोजा (हिज़ड़ा) के तीन सवाल-AKBAR BIRBAL STORIES IN HINDI

पहले प्रश्न का उत्तर यह है आलम पनाह की जमीन का बीच यहां हैं | वे दो कदम पीछे हटे और जमीन पर एक जगह पैर मारते हुए बोले- अगर खोजा को यकीन ना हो तो वह नापतोल करके देख सकता है|

 खोजा चुप रहा उसके बस की बात कहां थी -नाप खोज करना |

बीरबल बोले- दूसरा प्रश्न आकाश में कितने तारे हैं,का उत्तर यह है कि खोजा के सिर में जितने बाल हैं आकाश में उतने ही तारे हैं -अगर यकीन ना हो तो खुद अपने सिर के बाल मुंडवा करके आए और उसके बाद तारों की गणना करा ले गिनती एक भी कम या ज्यादा न होगी खोजा इस बार बगले झांकने लगा | भला सर के बाल मुंडवाना और फिर तारों की गिनती कराना उसके बूते की बात कहां थी|

 तीसरा प्रश्न का उत्तर यह है| हालांकि मैंने कई बार जमीन के मर्दों की गणना करने की कोशिश की पर मर्द और औरत के बीच के इन हिज़डो की वजह से हमेशा गिनती में फर्क आ गया- आज तक तय ही नहीं हो पाया कि इन बीच के लोगों को किस गिनती में रखा जाए- औरत या मर्द अब अगर इस धरती के समस्त हिज़डो को मरवा दिया जाए | तो सही गिनती हो जाएगी|

खोजा (हिज़ड़ा) के तीन सवाल-AKBAR BIRBAL STORIES IN HINDI

 बीरबल की बात पूरी होनी थी कि हिजरा अपना मुंह छुपाए जनान खाने की ओर भाग गया| जाहिर सी बात थी उसने हार स्वीकार कर ली थी

 बादशाह बहुत प्रसन्न हुए| 


अकबर बीरबल की ऐसी ही कहानियां पढ़ने के लिए आप हमे सब्सक्राइब कर सकते है | एवं अन्य कहानियां पढ़ने के लिए नीचे दिए गए कहानियों के टॉपिक्स पर क्लिक कर सकते है |


No comments